Spread the love
Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi

नमस्कार दोस्तों आज हम आपके लिए Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi उपलब्ध किया है। अगर आप Vigyan Ke Chamatkar Nibandh,Vigyan Ke Chamatkar और विज्ञान के चमत्कार निबंध की तलाश में हो तो आप सबसे अच्छे लेख के प्रश्न में आए हो जहा आपकी तलाश खत्म होती हैं। तो पढ़िए विज्ञान के चमत्कार पर निबंध सारा लेख ध्यान से

Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi

प्रस्तावना :-

आज का युग विज्ञान का युग है । मानव जीवन और विज्ञान एक दूसरे के पर्याय बन गए हैं। आज के समय में हम जब पीछे के समय को देखते है तो विज्ञान ने कितनी तरक्की कर लिया है दुनिया गेजेट्स और मशीन से भरी हुई हैं। हम कैसे आधुनिक हो गए यहां सब विज्ञान जी मदद से संभव हुए हैं।

विज्ञान का चमत्कार :-

आज के युग में विज्ञान इतनी उन्नति कर ली है उसके अविष्कार से मानो दंग रह गए है अनेक प्रकार के चमत्कारों को उन्हीं चमत्कारों के कारण इस युग को विज्ञान का युग कहा गया है मानव जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में आसन जमा लिया है। चिकित्सा यातायात मनोरंजन शिक्षा यदि को लेकर फैल चुका है।उठने से लेकर रात तक सोनू तक मनुष्य जिन उपकरणों का उपयोग करता वहा सब तकनीक विज्ञान कि देन हैं।

आज बिजली, रेडियो, सिनेमा टेलीविजन ,टेलिफोन, जलयान ,वायुयान,यदि सब विज्ञान के देन है। कल तक जिन रोगों और बीमारी की इलाज की हम कल्पना नहीं कर सकते थे आज विज्ञान ने उन रोगों के नाम तक मिटा दिया है। वैज्ञानिक उपकरणों की सहायता से मानव हिमालय के उच्च शिखर पर विजय पताका फरहया है।

विज्ञान एक वरदान हैं :-

Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi पहले मनुष्य का समय अन्न वस्त्र आदि जुटने के में बीत जाता हैं। दिनभर कठोर श्रम करने के बाद भी उसकी आवश्यकता पूरी नहीं हो पाती थी परन्तु अब मशीनों की सहायता से वह अपनी इन आवश्यकताएं को बहुत कम समय में पूरी कर सकते हैं। और काफी सी घूमने फिरने पढ़ने लिखने या अन्य चीजो मेे अपना समय दे सकते हैं। वस्तुत : ऐसा प्रतीत होता है कि विज्ञान एक वरदान हैं और यहां मनुष्य मनुष्य जाति को प्राप्त हुए हैं।

पदार्थों को बढ़ावा :-

प्रत्येक वैज्ञानिक आविष्कारों का उपयोग मानव हित के लिए नहीं किया जाता जितना मानव अहित के लिए जरूरी हैं ।

यातायात को बढ़वा :-

आज विज्ञान ने मानव के जीवन को काफी मदगार है। पहले जहां मानव को एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने में कई-कई वर्ष लग जाते थे वहीं आज मानव कई मीलों की दूरियों को कम समय में पार कर तय लेता है।

बेहद ही कम समय में मनुष्य ने हेलीकॉप्टर, हवाई जहाज, कार आदि सभी यातायात के साधन बना लिया हैं।

मनोरंजन को बढ़वा :-

आज का मनुष्य हर दिन-पर-दिन कड़ा परिश्रम करके सफल होना चाहता है लेकिन इस परिश्रम के बाद हर इंसान को मनोरंजन की आवश्यकता हमेशा होती है

आज रेडियो, टेलीविजन, डीवीडी प्लेयर, थ्रीडी सिनेमा, कम्प्यूटर, इंटरनेट आदि ऐसी कई चीजे हैं जिन्हें विज्ञान द्वारा निर्माण किया गया है। कम्प्यूटर और इंटरनेट के वीडियो कॉलिंग द्वारा तो हम दूर बैठे हमारे रिश्तेदारो घरवालों से आमने-सामने बात कर सकते हैं।

कृषि व व्यवसाय :

विज्ञान ने कृषि, उद्योगों, कल-कारखानों आदि का अधिक से अधिक विकास किया जा रहा है। कृषि के क्षेत्र में इस्पात, खाद व उपकरण, खाद्य पदार्थ, वाहन, वस्त्र आदि के कारखानें खुलते जा रहे हैं। वहीं लघु एवं कुटीर उद्योगो में भी विज्ञान की सहायता से पर्याप्त विकास हुआ है।

अन्य पड़े

Leave a Reply

Your email address will not be published.