Essay On Durga Puja In Hindi

दोस्तो अगर आप Essay On Durga Puja In Hindi की खोज में है। तो आप सबसे अच्छे पृष्ठ मेे आए हो हमनें आपके लिए इस लेख मेे दुर्गा पूजा पर निबंध उपलब्ध किया हैं । तो पढ़िए

दुर्गा पूजा पर निबंध / Essay On Durga Puja In Hindi (100 शब्द)

भारत देश त्योहारों की भूमि है। क्योंकि भारत देश में कई धर्म के लोग निवास करते है। और अपने धर्म के अनुसार अपने त्यौहार मनाते हैं। वहीं हिन्दू धर्म का सबसे बड़ा त्यौहार दुर्गा पूजा माना जाता है। बंगाल में दुर्गा पूजा के लिए काफी प्रसिद्ध है। दुर्गा पूजा का बड़े धूम धाम से किया जाता है दुर्गा पूजा की शुरआत भगवान राम ने शक्ति प्राप्त करने के लिए किया था।

जब से हिन्दू धर्म मेे दुर्गा पूजा किया जाता है। यह त्यौहार नौ दिनों का होता है और इसे हर साल मनाया जाता है। लोग पूजा के लिए मंदिर जाते है और घर में दुर्गा पूजा बड़े धूम धाम से करते

दुर्गा पुजा का महत्व :-

Essay On Durga Puja In Hindi नवरात्र बुराई से जीत के खुशी मेे मानते है। इस दिन दुर्गा देवी ने राक्षस महिषासुर का अंत किया था। ब्रह्मा विष्णु और शिव ने महिषासुर का अंत करने के लिए माता दुर्गा को आमन्त्रित किया गया था 9 दिन तक युद्ध चलने के बाद माता दुर्गा ने राक्षस महिषासुर को 10 दिन में अंत किया था और उस दिन को हम दशहरा के नाम से जानते है। दुर्गा पूजा नौ दिन तक भक्तो के काफी खुशियों का दिन रहता है और मंदिरों मेे भक्तो की भीड़ लगी होती है।

Durga Puja Par Nibandh In Hindi ( शब्द 200)

दुर्गा पूजा भारत के हिन्दू धर्म का एक विशेष त्योहार है। इसे बड़े ही भाव और सच्ची श्रद्धा के साथ मनाया जाता है। भगवान राम ने रावण को मारने के लिए माता दुर्गा की पूजा शक्ति प्राप्त करने के लिए की थी। तभी दुर्गा पूजा की शुरआत हुआ इस त्योहार को हर वर्ष बड़े धूम धाम से लोग मानते हैं।

कई लोग मिलकर मंदिरों में मिलकर सांस्कृतिक और परम्परागत तरीके से बड़े ही धूम धम से मनाया जाता है । बंगाल में दुर्गा पूजा काफी प्रसिद्ध है। दुर्गा मां नौ दिन रात लड़कर राक्षस महिषासुर का अंत किया था। लोग दुर्गा माता की प्रतिमा स्थापित करते हैं और उसकी 9 दिन तक बड़े ही अच्छे से सेवा करते हैं और दसवें दिन में उस मूर्ति को नदियों में विसर्जित की कर दिया जाता है।

दसवें दिन को हम दशहरा या विजयदशमी के नाम से जानते हैं दुर्गा पूजा बुराई मेे अच्छाई की जीत में मनाया जाता है इस नौ दिन भक्ति भोजन पानी त्याग कर उपवास रहते हैं । जागो जागो पर माता की अलग-अलग झांकियां बनाई जाती है नाटक और रामलीला का आयोजन किया जाता है। और भक्त सब की सुख समृद्धि के लिए मां से दुआ किया जाता है।

अन्य पड़े

Leave a Reply

Your email address will not be published.